BREAKING NEWS:
  • Monday, 16 Sep, 2019
  • 2:26:50 PM

Pharmaceutical companies urges to notify new prices of medicines after GST

Pharmaceutical companies urges to notify new prices of medicines after GST. Watch complete news story of News @ 7:00 PM for getting the detailed news updates! Zee Business is one of the leading and fastest growing Hindi business news channels in India. The channel has revolutionized business news by its innovative programming and path-breaking strategy of making business news a 24/7 activity as it is not just limited to the stock market. This has made Zee Business your channel to wealth and profit.

Besides updated hourly news bulletins, there is a lot to watch out for, whether it be stock market related detailed information, investments, mutual funds, corporate, real estate, travel or leisure. The channel has the most diverse programming portfolio which has positioned it as a channel of choice amongst viewers. By speaking a language of the masses, Zee Business is today the most preferred for business news.



Responses

Related News

मेडिकल कालेज खोलने के सरकारी फैसले पर शक

मेडिकल कालेज खोलने के सरकारी फैसले पर शक

मोदी सरकार ने फ़ैसला किया है कि अगले तीन साल में 75 नए मेडिकल कालेज खोले जाएंगे। 24000 करोड़ की राशि ख़र्च होगी। 75 नए कालेजों से मेडिकल में सीटों की संख्या 15,700 बढ़ जाएगी। सूचना प्रसारण मंत्री ने बताया कि पांच साल में 82 मेडिकल कालेज सेट-अप किए गए हैं। 75 नए मेडिकल कालेज उन ज़िलों में खोले जाएंगे जहां पर मेडिकल कालेज नहीं है। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि पिछले पांच साल में 82 नए मेडिकल कालेजों को मंज़ूरी दी है और 45,000 सीटें नई बढ़ाई हैं। इसमें एम बी बी एस और पोस्ट ग्रेजुएशन की भी सीटें शामिल हैं। अब अगले तीन साल में 75 मेडिकल कालेजों को मंज़ूरी दी गई है।

Universal Healthcare in India –  Digital Health, a stitch in time

Universal Healthcare in India – Digital Health, a stitch in time

Around 6 Crore Indians fall into financial distress every year as a result of medical costs in the family. India has so far been a patient-pays market where the patient bears over 80% of the medical expense out of his own pocket with no protection. An estimated 3 Million Years of healthy life are lost due to Adverse Medical Events / Patient Injury via 5.2 Million recorded Patient Injuries in India. At the very least these result in extended hospital stays, additional treatment costs and time away from work and life for the patient. Sometimes death and disability too.

भूख हड़ताल के बाद खट्टर सरकार राजी फिजियोथैरेपिस्ट की मांगों पर होगा विचार

भूख हड़ताल के बाद खट्टर सरकार राजी फिजियोथैरेपिस्ट की मांगों पर होगा विचार

हरियाणा चार्टेड एसोसिएशन ऑफ फियोथेरपिस्ट्स के बैनर तले आज एसोसिएशन के एक 13 सदस्यीय शिष्ट मंडल ने हरियाणा सचिवालय में जाकर हरियाणा फिजियोथेरेपी कौंसिल की फ़ाइल के बारे में संबंधित अधिकारियों से मुलाकात की ओर उस फ़ाइल की वर्तमान हालात पर चर्चा की एसोसिएशन के प्रदेश अध्य्क्ष डॉ आर के मुदगिल ने बताया कि अधिकारियों का रवैया काफी सौहार्दपूर्ण रहा और उन्होंने हरियाणा चार्टर्ड एसोसिएशन द्वारा कौंसिल ड्राफ्ट के लिए सोंपे गए सुझावों पर गौर करते हुए इस बात पर सहमति जताई कि कौंसिल के अंदर इलेक्टेड मेंबर्स की संख्या अधिक रखी जाए और इस बात का भी ध्यान रखा जाए कि प्रदेश फिजियोथेरेपी कौंसिल मैं फिजियोथेरेपी चिकित्सकों की संख्या ज्यादा रखी जाए ताकि कौंसिल बनाने का मूल उद्देश्य पूरा हो सके। अधिकारियों द्वारा कि गई सकारात्म पहल के चलते प्रदेश के फिजियोथेरेपी चिकित्सकों व सरकार का टकराव टल गया है।

सीएम खट्टर नहीं माने, भूख हड़ताल पर बैठे हरियाणा के फिजियोथैरेपिस्ट

सीएम खट्टर नहीं माने, भूख हड़ताल पर बैठे हरियाणा के फिजियोथैरेपिस्ट

हरियाणा में फिजियोथैरपी कौंसिल के गठन में ढिलाई का आरोप लगाते हुए हजारों फिजियोथैरपिस्टों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। हरियाणा के विभिन्न जिलों से आए हुए फिजियोथैरपिस्ट रविवार से चंडीगढ़ में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। फिजियोथैरपिस्टों के सभी संगठनों ने इस मुद्दे पर एकजुटता दिखाते हुए आने वाले दिनों में आंदोलन और तेज करने का ऐलान किया है।